IPL 2020 के सबसे महंगे खिलाड़ी, टॉप 5 में रहे ये विदेशी प्लेयर्स

By: Sakshi Aggarwal
Updated: October 22nd 2020, 6:27:14
IPL 2020 के सबसे महंगे खिलाड़ी, टॉप 5 में रहे ये विदेशी प्लेयर्स

इस बार का आईपीएल (IPL) भले ही देरी से शुरू हुआ पर फैंस में उत्साह तो जमकर दिखा और यही कारण रहा की फ्रैंचाइजियों ने प्लेयर्स को खरीदने के लिए करोड़ो रुपया खर्च किया। हर बार की तरह इस बार भी नीलामी में खिलाड़ियों पर जमकर पैसा बरसा। आपको बता दे की इस बार बल्लेबाज़ों से ज्यादा पैसा गेंदबाजों पर लगा। फ्रैंचाइजियों ने इस बार विदेशी खिलाड़ियों पर दाव लगते हुए नीलामी की कूल राशि का 41 प्रतिशत पैसा उनपर लगाया।

आईपीएल (IPL) 2020 की नीलामी में कुल 140.3 करोड़ रूपये खर्च हुए, जहा एक तरफ किसी भी भारतीय खिलाड़ी की बोली 10 करोड़ तक नहीं पहुची वही ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ को सबसे ज्यादा पैसा खर्च करके ख़रीदा गया।

twitter/@patcummins30

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबार पैट कमिंस (Pat Cummins) को कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) ने 15 करोड़ 50 लाख की बड़ी बोली लगाकर अपनी टीम का हिस्सा बनाया। 15 करोड़ 50 लाख की बोली के साथ पैट आईपीएल हिस्ट्री के अब तक के सबसे महंगे बिकने वाले विदेशी खिलाड़ी बन गए है।

आपको बता दे की 2020 आईपीएल (IPL) की बोली कोरोना महामारी से पहले ही दिसंबर 2019 में हो गई थी।

आईपीएल (IPL) 2020 के सबसे महंगे खिलाड़ियों की सूची

Player Type Bid Team
Pat Cummins Bowler Rs 15.5 Crore Kolkata Knight Riders
Glen Maxwell All-Rounder Rs 10.75 Crore Kings XI Punjab
Chris Morris All-Rounder Rs 10 Crore Royal Challengers
Sheldon Cottrell Bowler Rs 8.5 Crore Kings XI Punjab
Nathan Coulter-Nile Bowler Rs 8 Crore Mumbai Indians
Shimron Hetmyer Batsman Rs 7.75 Crore Delhi Capitals
Piyush Chawla All-Rounder Rs 6.75 Crore Chennai Super Kings
Sam Curran All-Rounder Rs 5.5 Crore Chennai Super Kings
Eoin Morgan Batsman Rs 5.25 Crore Kolkata Knight Riders

ऊपर दी गयी सूचि से आप जान चुके होंगे की कोन से खिलाड़ी इस बार सबसे महंगी बोली लगाकर ख़रीदे गए है। अगर टॉप 5 की बात करे तो टॉप 5 के सारे खिलाड़ी विदेशी है। जबकि भारत की तरफ से सबसे महंगे बिकने वाले खिलाड़ी पियूष चावला हैं जिन्हें चेन्नई सुपर किंग्स ने 6.75 करोड़ रुपए देकर अपनी टीम का हिस्सा बनाया।

अगर अब आप ये सोच रहे है की विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी जैसे बड़े खिलाड़ियों को नीलामी में क्यों नहीं रखा गया। तो आपको बता दे की दरअसल सभी 8 टीम्स में कुछ ऐसे खिलाड़ी होते है जो स्थायी रूप से टीम से जुड़े होते है जिन्हे बोली में शामिल नहीं किया जाता। इन खिलाड़ियों को सभी 8 टीम की फ्रैंचाइज़ी एक निश्चित सैलरी देकर अपनी टीम में रखती है।